कहाँ जाऊंगा…

Published by Himanshu Rai

August 14, 2020

कभी जो, छूट गया ये साथ..
कहाँ जाऊंगा
कभी जो, कह न पाया बात..
कहाँ जाऊंगा

ये रात ही तो है..
मेरे दुःख सुनती है..ढांढस बँधाती है

कभी जो थक गई ये रात…
कहाँ जाऊंगा..

Recently Published:

नारी

मुझे मेरी उङान ढूँढने दो।
खोई हुई पहचान ढूँढने दो।

read more

0 Comments

%d bloggers like this: